Sunday, April 22, 2018
Home > List of Articles > Stomach Disease > Acidity > एसिडिटी (Acidity), कारण, लक्षण और घरेलू उपचार |

एसिडिटी (Acidity), कारण, लक्षण और घरेलू उपचार |

एसिडिटी (Acidity), कारण, लक्षण और घरेलू उपचार |

 

एसिडिटी (Acidity) यह एक सामान्य समस्या है जो मुख्य रूप से सिने में जलन पैदा करती है | जलन छाती के निचले हिस्सों में ज्यादा महसूस होती है, जब पेट के अम्लीय पदार्थ खाने की नली (ग्रासनली या इसोफेगस Esophagus ) में आ जाते हैं तो इस स्थिति में एसिडिटी (Acidity) की समस्या पैदा हो जाती है |

मानव शरीर में हाईड्रोक्लोरिक एसिड नामक अम्ल पाया जाता है, यह अम्ल भोजन को टुकड़ों में तोड़ देता है और बैक्टीरिया जैसे रोग पैदा करने वाले रोगजनको से भोजन को बचाता है |

पेट के अंदर की परत शक्तिशाली होती है,जो हाईड्रोक्लोरिक अम्ल के लिए अनुकूल होती है इसके वीपरीत इसोफेगस की परतें इस अम्ल के प्रति अनुकूलित नहीं होती है इस लिए उसमें जलन महसूस होने लगती है |

एसिडिटी (Acidity) के लक्षण

  • भोजन करने के बाद ग्रासनली में जलन होने लगती है और कुछ घंटो तक लगातार बनी रहती है लेटने और झुकने पर ज्यादा बढ़ जाती है |
  • मुँह का स्वाद खराब होना |
  • खट्टी डकारें आना |
  • सिने की जलन का दर्द गर्दन तक भी महसूस होने लगता है |
  • छाती या उपरी पेट में दर्द महसूस होना |
  • मतली या उल्टी आना |
  • खट्टा स्वाद और स्वर बैठना |
  • सांस में बदबू आना |
  • पेट के एसिड के कारण दांतों की परतों को नुक्सान पहुंचना |

एसिडिटी (Acidity) किन कारणों से होती है

  • ज्यादातर एसिडिटी गलत खान-पान की वजह से होती है |
  • गर्भावस्था के दौरान भी एसिड रिफ्लेक्स बढ़ जाता है क्यूंकि इस अवस्था में अंदरूनी अंगो में अतिरिक्त दबाव बढ़ जाता है |
  • जो खाद्य पदार्थ अधिक चिकनाई युक्त होता है, जो पचने में ज्यादा समय लेते हैं उन पदार्थों से अक्सर एसिडिटी की समस्या हो जाती है |
  • पेट में अधिक समय तक खाने का जब पाचन नहीं होता है तो उनसे अम्ल निकलने लगता है ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि वसा भोजन को आंतो तक जाने की गति को धिमा कर देती है |
  • मोटापा भी एसिडिटी को जन्म देता है |
  • धुम्रपान के कारण भी एसिडिटी की समस्या हो जाती है |
  • फाइबर युक्त आहार का कम मात्रा में खाना |
  • शारीरिक व्यायाम न करना |
  • ज्यादा एल्कोहल और कैफीन का सेवन करना |
  • ज्यादा मिर्च मसाले दार और जंक फ़ूड के सेवन के कारण |

यह भी पढ़ें :- गुनगुने पानी के स्वास्थ्य लाभ |

यह भी पढ़ें :- बवासीर (Piles) होगा जड़ से ख़त्म |

एसिडिटी (Acidity) का घरेलू उपचार

एसिडिटी की समस्या को दूर करने के लिए लोग तरह तरह के उपाय करते हैं लेकिन हम आपको ऐसा दमदार उपाय बताने वाले हैं जो ज्यादातर लोगों को नहीं पता होता है | अगर इन उपायों को सही तरीके से किया जाए तो एसिडिटी की प्रॉब्लम से जल्द से जल्द राहत मिल सकती है |

उपाय – 1. एक चौथाई चम्मच तुलसी पाउडर, अजवाइन,सोंफ और दालचीनी को एक कप बटर मिल्क में मिलाएं |

इस्तेमाल करने का तरीका – इस नुस्खे को सुबह शाम यूज करने से एसिडिटी की समस्या से राहत मिलेगी |

अन्य लाभ – एसिडिटी के साथ साथ इस घरेलू नुस्खे से आपको कब्ज,गैस और इनडाईजेशन की प्रॉब्लम से भी आपको छुटकारा मिलेगा |

उपाय -2. अदरक के रस में एक चम्मच शहद मिलकर पिने से आपको एसिडिटी की समस्या नहीं रहेगी |

उपाय -3. एक ग्लास पानी में एक चम्मच मीठा सोडा मिलकर धीरे धीरे पिएं इससे एसिडिटी में बहुत जल्द आराम मिलता है |

उपाय-4. एक कप पानी में आधा निम्बू का रस और एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से एसिडिटी नहीं होती है |

उपाय-5. एक ग्लास गुनगुने पानी में थोड़ा सा काली मिर्च पाउडर और निम्बू निचौड़ कर पीने से जी मितलाना, उबकाई और खट्टी डकार आने जैसी समस्यां ख़त्म हो जाती है |

रोक थाम के अन्य उपाय

खाने पीने की आदतों में बदलाव करके और दिन चर्या को सही करके एसिडिटी की समस्या से निजात पा सकते हैं |

  • अधिक से अधिक फल और सब्जियों का सेवन करें जो अम्लीय न हों |
  • एक ही बार में भर पेट खाने की बजाय थोड़ा थोड़ा भोजन समय अंतराल पर करें |
  • रात को सोने से 1 या 2 घंटे पहले भोजन करना |
  • एक दिन में करीब 4 से 5 लीटर पानी का सेवन करना |
  • शारीरिक व्यायाम करना |

अगर आप भी एसिडिटी से परेशान है तो उपर बताए गए उपायों को जरुर आजमाकर देखें बहुत जल्द ही आपको असर देखने को मिलेगा |

Written by :- Dr. Mohammad Mustafa

WhatsApp :- +91- 9887966975

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 Shares
+1
Share
Tweet
Pin